Discussions

header ads

हम ही थे जो तेरे झुमके से आगे न कुछ कह सके



बात चली तो थी कल रात महफ़िल में तेरी,

 हम ही थे जो तेरे झुमके से आगे न कुछ कह सके

Baat Chali to thi Kal Raat Mehfil Me Teri,

Hum hi the jo tere Jhumke se aage Na Kuch kah sake








Post a Comment

0 Comments