Discussions

header ads
मुझे तो आज भी उस बेवफा के खुले बाल पसंद है।
 हम ही थे जो तेरे झुमके से आगे न कुछ कह सके
हम जो दे देते है, उसे वापिस नहीं लेते - Attitude Shayari
ज़िन्दगी भरी पड़ी है सब, अनकहे अल्फाज़ो से - Two Line Shayari
सज़ा बन जाती है गुज़रे हुए वक़्त की निशानीयाँ - 2 Line Shayari, Quotes
ये भी ना कह पाये!  कि हमे प्यार हो गया | Love Shayari
कैसे बयां करूँ ये रात.. मोहब्बत की, तेरे इंतजार में सिर्फ तारीखें बदलती हैं